Category: Good night Status

हर रास्ता एक सफर चाहता है, हर मुसाफिर एक हमसफ़र चाहता है, जैसे चाहती है चांदनी चाँद को, कोई है जो आपको इस कदर चाहता है। शुभ रात्रि।...

कुदरत के करिश्मो में अगर रात ना होती_तो ख्वाब में उनसे मुलाक़ात ना होती_वो वडा तो कर गये की आएँगे ख्वाब में_मारे खुशी के नींद ना आए तो क्या करें!!...

दुआ है कि आपकी रात की अच्छी शुरुआत हो, प्यार भरे मीठे सपनो की बरसात हो, जिनको ढूंढ़ती रहीं दिन-भर आपकी आँखें, रब करे सपनों में उनसे मुलाक़ात हो। शुभ रात्रि।...

चाँद को भेजा है पहरेदार, तारों को सौंपा है निगरानी का काम, रात ने जारी किया है ये फरमान, कि सारे मीठे सपने हों आपके नाम। शुभरात्रि।...

रात को चुपके से आती है इक पारी_कुछ खुशियो क सपने लाती है एक परी_कहती है सपनो के आगोश में खो जाओ_भूल के सारे गम चुपके से सो जाओ!!...

चाँद को भेजा है पहरेदार, तारों को सौंपा है निगरानी का काम, रात ने जारी किया है ये फरमान, कि सारे मीठे सपने हों आपके नाम। शुभरात्रि।...

रात का चाँद आसमान में निकल आया है_साथ में तारों की बारात लय है_ज़रा आसमान की ओर देखो वो आपको_मेरी और से गुड नाईट कहने आया है....

आप हमारे सबसे अच्छे दोस्त हैं, यह दिल से कहते हैं हम, इसलिए आपको रोज़ याद करते हैं हम, बाकी कुछ कहें या ना कहें रात को शुभ रात्रि कहते हैं हम। शुभ रात्रि।...

एक जैसे दोस्त सारे नही होते_कुछ हमारे होकर भी हमारे नहीं होते आपसे दोस्ती करने के बाद महसूस हुआ_कौन कहता है ‘तारे ज़मीं पर’ नहीं होते....

फूल खिलते रहे ज़िंदगी की राह में, हँसी चमकती रहे आपकी निगाह में, कदम-कदम पे मिले ख़ुशी की बहार आपको, यही दिल देता है दुआ बार-बार आपको। शुभ रात्रि।...

सोचता रहा ये रातभर करवट बदल बदलकर, जानें वो क्यों बदल गया, मुझको इतना बदलकर..!!...

रात खामोश है चाँद भी खामोश है_पर दिल में शोर हो रहा है, कंही ऐसा तो नहीं एक प्यारा सा दोस्त_बीना गुड नाईट कहे सो रहा है..!!...

आप जो सो गए तो ख़्वाब हमारा आएगा, एक प्यारी सी मुस्कान आपके चेहरे पर लाएगा, खिड़की दरवाज़े दिल के खोल कर सोना, वरना आप ही बताओ हमारा ख़्वाब कहाँ से आएगा। शुभ रात्रि।...

मिठी रातों में धीरे से आती है एक परी, कुछ ख़ुशी भरे मीठे सपने लाती है वो परी, कहती है सपनों के सागर में आप डूब जाओ, भूल के सारे दुःख दर्द, आराम से सो जाओ। शुभ रात्रि।...

सो जा ऐ दिल कि अब धुन्ध बहुत है तेरे शहर में, अपने दिखते नहीं और जो दिखते है वो अपने नहीं..!!...

शुभ हो रात्रि आपकी_बड़ी ही मीठी नींद हो आपकी_आये आपको कोई प्यारा सा ख्वाब_और ख्वाब की हर ख्वाहिस पूरी हो आपकी…!!...

रात खामोश है चाँद भी खामोश है_पर दिल में शोर हो रहा है, कंही ऐसा तो नहीं एक प्यारा सा दोस्त_बीना गुड नाईट कहे सो रहा है..!!...

ये रात चाँदनी बनकर आपके आँगन में आये, ये तारे सारे लोरी गा कर आप को सुलायें, हो इतने प्यारे सपने आपके, कि नींद में भी आप मुस्कुराएं। शुभरात्रि...